2 पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद इजराइल ने मुस्लिमो की तीसरी सबसे बड़ी मस्जिद को किया बंद



इजराइल के दो पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद मुस्लिमों के तीसरे सबसे बड़े धार्मिक स्थल को इजराइल द्वारा किया गया बंद, 50 साल में हुआ पहली बार जमकर की गयी मुसलमानों की पिटाई इस फैसले के बाद से मुस्लिम देशों में मचा है हडकंप !

अगर आप इज़राइल के मैप पर नजर डाले तो यह छोटा सा देश चारों ओर से इस्लामिक देशो से घिरा हुआ है. इस्लामिक देश और मुसलमान इज़राइल को कैसे देखते हैं यह तो सब जानते ही हैं.अब आप आईएसआईएस को ही देख लीजिए जिसने पूरे अरब में तबाही मचा रखी है, जो लोगों को बेरहमी से मार रहे हैं. 

इज़राइल सीरिया का पड़ोसी देश ही है लेकिन आज तक आईएसआईएस ने इज़राइल पर एक भी गोली नहीं चलाई और ना ही कोई ऐसा करने की धमकी दी क्योंकि आईएसआईएस भी जानता है कि इज़राइल को छेड़ना मतलब अपनी मौत को दावत देने जैसा है.

इस बार मुस्लिम हमलावर ने इजराइल के दो पुलिसवालों की धोखे से हत्या कर दी तो इजराइल ने वो कदम उठाया जिसने सारे मुस्लिम देशों को हिला कर रख दिया,इजराइल ने अल-अक्सा मस्जिद पर ताला लटका दिया.


मीडिया से मिली खबरों के अनुसार इजराइल में एक बार फिर यहूदी-मुस्लिम विवाद बढ़ता जा रहा है.पुलिस वालों की हत्या के बाद इजराइल पुलिस ने वहां मुस्लिम की भीड़ पर बहुत ज्यादा बल प्रयोग किया  जिसमें कई मुस्लिम लोगों की घायल होने की खबर है.

इजराइल के न्यूज़ चैनल के दावे के अनुसार दरअसल ये विवाद तब हुआ जब इजराइल की अरब सिटी अम-अल-हफम के दो लोगों ने मस्जिद परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे, मेटल डिटेक्टर और सुरक्षा अधिकारियों की मौजूदगी पर एतराज जताया. जिसपर नाराज दोनों आरोपियों ने इस्राइली पुलिसकर्मियों को गोली मार दी.

ये रहा विडियो पुलिस वालों की हत्या के बाद जमकर मुस्लिम लोगों की धुनाई की गयी !